दोनों हाथों से एक साथ बंदूक चलाता था यह बदमाश पुलिस ने ऐसे किया था इसका एनकाउंटर

Spread the love

अमिट रेखा सत्य प्रकाश यादव

ब्यूरो गोरखपुर
गोरखपुर सहित आसपास के जिलों में अपराध की दुनिया में बदमाश विपिन सिंह का बड़ा नाम था। यह अपने गोली चलाने के अंदाज से मशहूर हुआ। आलम यह था कि जब भी यह वारदात करने को जाता था तो दोनों हाथों से गोली चलाता था। एसपी क्राइम अशोक वर्मा के अनुसार 11 जून 2020 की है। शाहपुर क्षेत्र के जंगल सालिकराम, बधिक टोला का रहने वाला हिस्ट्रीशीटर बदमाश विपिन सिंह लॉकडाउन में जमानत पर जेल से छूटा था। वह तभी से पिपराइच इलाके के जंगल छत्रधारी निवासी प्रॉपर्टी डीलर छोटू और अरुण की हत्या के फिराक में था। बताया जाता है कि इस दौरान उसे सूचना मिली कि एक दावत में ही छोटू प्रजापति और अरुण घर पर मौजूद हैं। वहीं से विपिन सिंह दो दोस्तों के साथ छोटू के घर पहुंच गया। उनके घर पर न मिलने पर हवाई फायरिंग करते हुए वहां से भाग निकला और सीधे शाहगंज निवासी उनके दोस्त अरुण निषाद के घर पहुंच गया। उस समय अरुण का छोटा भाई दीपचंद घर के बाहर बैठा हुआ था। विपिन और उसके साथियों ने उस पर गोली चला दी। हाथ में एक गोली लगने से वह घायल हो गए। इस बीच ग्रामीणों ने बदमाशों को दौड़ा लिया। भागने के दौरान कार सवार युवकों ने बदमाशों की बाइक में टक्कर मार दी, जिससे वे गिर गए और तीनों बदमाश फायरिंग करते हुए पैदल भागने लगे। इस दौरान गोली लगने से शाहगंज का एक दस वर्षीय पुत्र बच्चा भी घायल हो गया था। वहीं ग्रामीणों ने बदमाशों का पीछा करना जारी रखा। इसी बीच क्राइम ब्रांच और गुलरिहा थाने की पुलिस ने नौतन गांव के पास बदमाशों को घेर लिया। मुठभेड़ के दौरान पेट में गोली लगने से विपिन सिंह घायल हो गया। आनन-फानन उसे मेडिकल कालेज ले जाया गया। जहां से डॉक्टरों ने उसे केजीएमयू, लखनऊ रेफर कर दिया। रात में ही उसे केजीएमयू में भर्ती कराया गया। जहां अगले दिन सुबह उसने दम तोड़ दिया।

21300cookie-checkदोनों हाथों से एक साथ बंदूक चलाता था यह बदमाश पुलिस ने ऐसे किया था इसका एनकाउंटर