प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना में गोरखपुर को मिला चौथा स्थान

Spread the love

अमिट रेखा सत्य प्रकाश यादव

ब्यूरो गोरखपुर- गोरखपुर। 15 हजार से कम वेतन पाने श्रमिकों के सेवानिवृत्त होने के बाद उन्हें आर्थिक मदद देने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना लागू की है। इस योजना के लाभार्थियों को 60 साल की उम्र के बाद तीन हजार रुपये की पेंशन हर महीने मिलेगी। जबसे यह योजना लागू की गई है, तभी से लगातार गोरखपुर का रिकॉर्ड इस योजना में बेहतर रहा है। इस वर्ष गोरखपुर का स्थान प्रदेश में चौथा रहा। वहीं गोरखपुर मंडल के दो और जिले कुशीनगर व महराजगंज भी प्रदेश के टॉप पांच जिलों में शामिल हैं। सहायक श्रमायुक्त वीके श्रीवास्तव ने बताया कि सेवानिवृत्त होने के बाद श्रमिकों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत अलग-अलग उम्र के हिसाब से श्रमिकों को निवेश करना होगा। योजना के तहत 55 रुपये से 200 रुपये प्रतिमास योगदान कर सकते हैं। 18 साल की उम्र में आवेदन करने वाले को हर महीने 55 रुपये देने होंगे। वहीं 30 साल की उम्र वाले आवेदक को 100 रुपये और 40 साल वालों को 200 रुपये देने होते हैं। अगर श्रमिक ने 18 साल की उम्र आवेदन किया है, तो उसे सालाना 660 रुपये निवेश करना होगा। इससे 42 साल तक श्रमिक का कुल निवेश 27,720 रुपये का हो जाएगा। जबकि 60 साल की उम्र के बाद इस योजना में श्रमिक को तीन हजार रुपये की मासिक पेंशन आजीवन मिलेगी। पेंशन का भुगतान भारतीय जीवन बीमा निगम की ओर से किया जाएगा। कौन कर सकता है आवेदन
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए गृह आधारित कर्मकार, फेरी लगाने वाला, धोबी, दर्जी, माली, मोची, नाई, बुनकर, रिक्शा चालक, चाय का ठेला लगाने वाला, रसोईया, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, रोजगार सेवक, मनरेगा मजदूर, पीआरडी जवान, आशा वर्कर सहित तमाम ऐसे काम करने वाले महिला एवं पुरुष जिनकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच हो। जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम हो, साथ ही ईएसआई, ईपीएफ, एनपीएस के सदस्य न हों तथा आयकर दाता भी न हो, वह आवेदन कर सकता है।
ऐसे कराया जा सकता है पंजीकरण
प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना में आवेदन के लिए श्रमिक को आधार कार्ड, बैंक बचत खाता की पासबुक के साथ सीएससी पर जाना होगा और जानकारी देनी होगी। इसके बाद श्रमिक का खाता खुल जाएगा और श्रम योगी कार्ड मिल जाएगा। श्रमिक इस योजना की जानकारी 1800 267 6888 टोल फ्री नंबर पर ले सकते हैं।
ये हैं प्रदेश के टॉप पांच जिले
सहारनपुर- 21003
कुशीनगर-20792
हरदोई-19430
गोरखपुर-16552
महराजगंज-13929

18020cookie-checkप्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना में गोरखपुर को मिला चौथा स्थान