जिलाधिकारी डॉ रूपेश कुमार ने धान क्रय केंद्रों का लिया जायजा

Spread the love

ब्यूरो रिपोर्ट अभिषेक यादव अमिट रेखा प्रतापगढ़

    जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार ने आज भ्रमणशील रहकर धान क्रय केन्द्रों पर हो रही धान खरीद की प्रगति के सम्बन्ध में साधन सहकारी समिति मलावा छजईपुर, बिहार, बाबागंज, कुण्डा, कालाकांकर का औचक निरीक्षण किया। क्रय केन्द्र साधन सहकारी समिति मलावा छजईपुर के निरीक्षण में जिलाधिकारी ने क्रय केन्द्र प्रभारी से अब तक धान खरीद की प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि केन्द्र पर 5000 मीट्रिक टन धान खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसके सापेक्ष 3700 मीट्रिक टन धान की खरीद की जा चुकी है। जिलाधिकारी ने केन्द्र पर नोडल अधिकारी के तैनाती के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि एडीसीओ अजय कुमार मौर्य को नोडल अधिकारी के रूप में तैनात किया गया है। नोडल अधिकारी केन्द्र पर उपस्थित रहते है की नही के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि 02 से 03 दिन में एक बार आते है, जिस पर जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। क्रय केन्द्र बिहार के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने केन्द्र प्रभारी से अब तक की गयी धान खरीद के प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली तो केन्द्र प्रभारी द्वारा बताया गया कि 18000 मीट्रिक टन लक्ष्य निर्धारित है जिसके सापेक्ष 11000 मीट्रिक टन धान की खरीद की जा चुकी है। केन्द्र पर 386 कृषक बन्धुओं के धान के खरीद की गयी है जिसमें से 325 कृषकों को धनराशि का भुगतान किया जा चुका है, शेष के भुगतान की प्रक्रिया चल रही है। क्रय केन्द्र बाबागंज के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने धान खरीद के सम्बन्ध में केन्द्र प्रभारी से जानकारी ली तो बताया गया कि 453 कृषकों से धान की खरीद की गयी है जिसमें से 235 कृषकों का भुगतान किया जा चुका है, शेष भुगतान की प्रक्रिया चल रही है।
इसी प्रकार जिलाधिकारी ने क्रय केन्द्र कालाकांकर के निरीक्षण के दौरान उपस्थित कृषकों से धान खरीद के सम्बन्ध में जानकारी ली तो वहां पर उपस्थित कृषक सूर्यमणि मिश्र द्वारा बताया गया कि 20 दिसम्बर से केन्द्र का चक्कर लगा रहा हूॅ और मेरे धान की अब तक खरीद नही की गयी है जिस पर जिलाधिकारी ने केन्द्र प्रभारी से जानकारी ली तो वह सन्तोषजनक उत्तर नही दे पाये, जिसके लिये जिलाधिकारी केन्द्र प्रभारी त्रिलोकीराम भारती को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। इसके अलावा जिलाधिकारी ने क्रय केन्द्र कुण्डा का भी निरीक्षण किया और वहां पर हो रही धान खरीद की प्रगति एवं कृषकों के भुगतान के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की।
    जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान सभी क्रय केन्द्रों पर बोरी में की गयी खरीद को अपने समक्ष तौलकर वजन कराया तो यह तथ्य प्रकाश में आया कि निर्धारित वजन लगभग 40.600 किलोग्राम के सापेक्ष 41.300, 41.600, 41.900 किलोग्राम लगभग पाया गया जिस पर जिलाधिकारी ने समस्त केन्द्र प्रभारियों को निर्देशित किया कि निर्धारित वजन के अनुरूप ही कृषक बन्धुओं से धान की खरीद की जाये। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान सभी केन्द्रों पर उपस्थित कृषक बन्धुओं से धान विक्रय के सम्बन्ध में समस्या एवं बिचौलियों द्वारा धान की विक्री तो नही करायी जा रही है के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि इस प्रकार की समस्या क्रय केन्द्रों पर नही हो रही है। उन्होने क्रय केन्द्र प्रभारियों को स्पष्ट निर्देशित करते हुये कहा कि क्रय केन्द्रों पर यदि बिचौलियें पाये जाये तो उनके विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की कार्यवाही की जाये इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही व शिथिलता न बरती जाये। उन्होने सभी केन्द्र प्रभारियों को निर्देशित किया कि क्रय केन्द्रों पर धान खरीद निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ति जल्द से जल्द करायी जाये, किसानों को अनावश्यक रूप से क्रय केन्द्र पर परेशान न किया जाये और छोटे कृषकों के धान खरीद में प्राथमिकता दी जाये। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि क्रय केन्द्रों पर कृषकों से धान खरीद के उपरान्त भुगतान की कार्यवाही जल्द से जल्द करायी जाये। जिलाधिकारी के निर्देशानुसार आज समस्त उपजिलाधिकारी अपने-अपने तहसील क्षेत्रों के क्रय केन्द्रों पर भ्रमणशील रहकर धान खरीद के प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली।
13360cookie-checkजिलाधिकारी डॉ रूपेश कुमार ने धान क्रय केंद्रों का लिया जायजा