बगहा इलाज कराने गयी माँ बेटि गण्डक नदी मे गिरि

Spread the love

दो बर्षिय बेटि कि गयी जान माँ का इलाज जारी

अधिकारियो के उदासिनता के कारण अब तक पीपा पुल नही लगा


अमिट रेखा /ठकरहा/ कुशीनगर । शनिवार को जगीरहा घाट पर नदी के बीचो बीच दो वर्षीय बच्ची की डुबने से मौत हो गई माँ को बचाने में ग्रामीणों ने मुस्कत उठाई वही इस घटना के बाद नाव संचालक नाव को गंडक पार मे छोड कर फरार हो गया जिससे घन्टो देर नाव परिचालन ठप हो गया और श्रीनगर पंचायत से राशन कार्ड बनवाने पहुंचे लोग तथा खेती कार्यों के लिए दियरा पहुचे किसान व महिलाएं दोनो तरफ फंसे रहे।
मिली जानकारी के मुताबिक जगीरहा घाट पर नदी के बीचो बीच सवार व्यक्ति अब्दुल सत्तार ने बताया कि श्रीनगर निवासी बेलाश यादव की गर्भवती पत्नी दो वर्षीय बच्ची को लेकर अपने पति के साथ एक निजी नाव से नदी पार कर ठकराहा पीएचसी मे स्वस्थ जांच कराने के लिये आ रही थी जब नाव नदी के बीचों बीच पहुचा उसी दौरान रोती हुई बच्ची को चुप कराने के लिए महिला खडी हुइ और अनियंत्रित होकर बच्ची समेत नदी मे गिर गई पत्नी व बच्ची को बचाने के लिये नाव पर सवार पति और दुसरे लोगों ने भी नदी मे छलांग लगा दिया काफी मुशकत के बाद लोंगो ने महिला को बाहर निकाल लिया लेकिन बच्ची को नही बचाया जा सका।उधर महिला की स्थित बिगडता देख परिजनो ने उसे इलाज के लिए उत्तर प्रदेश के निजी अस्पताल लेकर पहुचे जहा उसका इलाज जारी है वही इस घटना की खबर पुरे प्रखंड मे जंगल की आग की तरह फैल गई जगीरहा घाट पर लोगों की भीड जमा हो गई मौके पर पहुचे मोतीपुर मुखिया सुरेन्द्र यादव जिला पार्षद प्रत्याशी मनीष,रोबीन कुमार चौधरी के सुचाना पर घटना स्थल पर पहुच थानाधायक्ष विनोद कुमार व सीओ चन्द्रशेखर तिवारी ने घटना के संबंध मे जानकारी ली और विचार विमर्श के बाद पुल निर्माण विभाग के ओर से संचालित नाव के माध्यम से परिचालन शुरू किया गया।वही इस घटना के बाद ब्रहमा यादव वकील यादव बबलु अंसारी ओम प्रकाश यादव गौतम यादव सहित सैकडो लोगों ने पीपा पुल विभाग के जेई व जिम्मेदारो के प्रति आक्रोश जाहिर करते हुवे कहा कि पीपा पुल विभाग के अधिकारीयो के उदाषीनता के कारण अब तक पीपा नही लगा जबकि पीपा नवम्बर माह मे ही लग जाना चाहिये l

14300cookie-checkबगहा इलाज कराने गयी माँ बेटि गण्डक नदी मे गिरि