स्वास्थ विभाग के लापरवाही से खड़ी हैं डायल 102 नंबर की एंबुलेंस गाड़ी, अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है

Spread the love

 

कुशीनगर/खड्डा क्षेत्र में कभी वरदान साबित होने वाली डायल 102 नंबर एंबुलेंस अब हांफने लगी है और अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है। डायल 102 नंबर एंबुलेंस का दाया पिछला पहिया फट जाने के कारण लगभग 5-6 दिनों से खड्डा तहसील के पास सुभाष चौक पर लावारिस की तरह खड़ी है।बताते चलें कि खड्डा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दोनों से संबंध डायल 102 नंबर एंबुलेंस की गाड़ी का टायर फट जाने के कारण तहसील के सुभाष चौक के पास खड़ा है, जिसका नंबर UP 32 EG 1331 है,जो लगभग 5 दिनों से खड्डा तहसील के पास सुभाष चौक पर खड़ी है, जिसका टायर फट चुका है और उसका चालक भी फरार बताया जा रहा है। 5-6 दिनों से डायल 102 नंबर एंबुलेंस गाड़ी खड़ी होने के कारण अब कबाड़ में धीरे-धीरे तब्दील हो रही है।

आकस्मिक सेवा मुहैया कराने वाली एंबुलेंस विभागीय लापरवाही के चलते स्वयं आकस्मिक सेवाओं को तरस रही है। इस क्षेत्र की जनता को आकस्मिक सेवा देने वाली एंबुलेंस जब इस तरह बदहाल खड़ी रहेगी तो मरीजों को तत्काल कैसे उपचार होगा? इस स्थिति को देखते हुए ऐसा प्रतीत होता है कि सरकार का बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने का दावा पूरी तरह फेल है। इस संबंध में जब प्रभारी चिकित्साधिकारी खड्डा डॉ संजय गुप्ता से पूछने पर उन्होंने कहा कि एंबुलेंस हमारे अधीन और हमारे अंडर में नहीं आता है उसकी डीजल, मेंटेनेंस की सारी व्यवस्थाएं लखनऊ से होती है। अब देखना यह है कि प्रकाशित किए गए इस खबर का संज्ञान संबंधित विभाग और विभागीय अधिकारी लेते हैं या यह एंबुलेंस इस क्षेत्र को स्वस्थ सुविधा देने में फिसड्डी साबित होगी।

102700cookie-checkस्वास्थ विभाग के लापरवाही से खड़ी हैं डायल 102 नंबर की एंबुलेंस गाड़ी, अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही है