July 18, 2024

माडल बनेगा कोपजंगल का गोसंरक्षण केंद्र- अतुल सिंह

Spread the love

अमिट रेखा-रामनरायन चौहान
धरनीं पट्टी, छितौनी/ कुशीनगर

खड्डा ब्लाक के कोपजंगल गांव में बने गो-संरक्षण केंद्र को माडल के रूप में विकसित किया जाएगा। फेज एक की कमियों को दूर कराकर गोवंश के लिए सभी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। केवल कुशीनगर ही नहीं आसपास के जिलों के भी बेसहारा पशुओं को यहां रखा जाएगा, यह बातें उत्तर प्रदेश गो-सेवा आयोग के उपाध्यक्ष यशवंत उर्फ अतुल सिंह ने कही। उन्होंने विधायक जटाशंकर त्रिपाठी, डीएम भूपेंद्र एस चौधरी, सीवीओ डा. विनय सिंह के साथ कोपजंगल में बने वृहद गो-संरक्षण केंद्र फेज-2 का वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजन कर लोकार्पण किया। उपाध्यक्ष ने कहा कि एक करोड़ 20 हजार की लागत से बने वृहद गो-संरक्षक केंद्र में 240 पशुओं को रखने की क्षमता है। चार पशु शेड, भूसा गोदाम, चारा स्टोर रूम, सोलर पैनल, पशुओं के पानी के लिए 10 हजार लीटर की टंकी व तीन चारागाह बनकर तैयार हैं। विधायक ने कहा कि गोवंश के संरक्षण को लेकर प्रदेश सरकार गंभीर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से गो-संरक्षण की मुहिम चलाई जा रही है। जगह-जगह बेसहारा पशुओं के लिए आश्रय स्थल बनवाया गया है। नपाध्यक्ष विनय जायसवाल, तहसीलदार डा. एसके राय, भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री जयप्रकाश उपाध्याय, हियुवा जिला प्रभारी डा. रामअधार राजभर, पूर्व जिला प्रभारी अजय गोविद राव शिशु, सुप्रियमय मालवीय, डा. उज्जवल खरवार आदि मौजूद रहे। डीएम ने मातहतों को दिया निर्देश उत्तर प्रदेश गोसेवा आयोग के उपाध्यक्ष यशवंत उर्फ अतुल सिंह ने गो-संरक्षण केंद्र कोपजंगल की 64 एकड़ भूमि को लोगों की ओर से फर्जी तरीके से अपने नाम कराने की जांच कराने, एसडीएम व बीडीओ को 15 दिन में एक बार और जिलाधिकारी को माह में एक बार जायजा लेने का अनुरोध किया। साथ ही मुख्य सड़क से केंद्र तक पिच सड़क बनवाने का डीएम से आग्रह किया। इस पर डीएम ने एसडीएम व बीडीओ को सप्ताह में एक बार निरीक्षण कर फोटो के साथ रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। उन्होंने एसडीएम अरविद कुमार को सात दिनों में गो-संरक्षण केंद्र की भूमि को कब्जा मुक्त कराने को कहा।

7590cookie-checkमाडल बनेगा कोपजंगल का गोसंरक्षण केंद्र- अतुल सिंह