ग्राम प्रधान पर ग्रामीणों ने घोटाले करने का लगाया आरोप

Spread the love

अमिट रेखा सत्य प्रकाश यादव

ब्यूरो गोरखपुर-गोला तहसील के न्याय पंचायत पकड़ी , गांव चडेरिया मे कोई भी विकास नहीं हुआ है, ऐसा गांव वालों का कहना है। और 15 सालों में एक ही परिवार 15 साल से प्रधानी में रहा है। उसके बावजूद भी गांव में नाली पानी बहने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। और गरीबों के पास अभी पूरी तरह से आवास नहीं है एवम रास्तो की हालत जर्जर है। जुग्गी झोपड़ी में निहायत गरीब लोग गुजारा कर रहे हैं सरकारी योजनाओं से ग्रामीणो को वंचित रखा गया हैं। गांव के निहायत गरीब लोग इकट्ठा होकर के मीडिया के लोगों से अपनी गांव की प्रधान काली में जो भी काम हुए हैं। नाजायज वह सब लोग मीडिया के सामने अपनी बात को बताया हैं। तथा यह लोग विकासखंड अधिकारी लोगों को विज्ञप्ति भी सौंप चुके हैं। लेकिन अधिकारीगण इस पर कोई सुनवाई नहीं कर रहे है। यह आपदा गांव वालों ने सुनाया की गांव के प्रधान के द्वारा बहुत ही गड़बड़ी व गड़बड़ घोटाला हुआ है। गांव वालों का कहना है कि जिसके जिम्मेदार कहीं ना कहीं अधिकारीगण भी मौजूद हैं जो मनरेगा में सरकार के द्वारा मजदूरी जो दी जाती है। उसमें भी कटौती की जाती है। आखिरकार इन गरीबों का हक छिनने मे जिम्मेदार कौन है l इस संदर्भ में खंड विकास अधिकारी गोला सुनील कुमार कौशल से बात करने पर उन्होंने कहा की जाच टीम बनाई गई है एक सप्ताह के अंदर जांच कर के उचित कार्यवाही की जाएगी ऐसा उन्होंने आश्वासन दिया ! जिनमें से गांव वालों का नाम कुछ इस प्रकार है। बहादुर प्रसाद, बलिराम, पिंटू, रामकरन, नवनीत कुमार ,फूलचंद, वीरेंद्र ,रविंद्र, नागेंद्र ,सुदर्शन , पानमती ,चंद्रावती, अरुण ,शीला, जनक राजी, सोमारी, राजकुमार सवेश, रामानंद ,संजीत ,जितेंद्र कुमार, माधुरी ,सावित्री ,परमीला , पार्वती, मनीषा गांव के इत्यादि लोग मौके पर मौजूद थे। इस सन्दर्भ मे खण्ड विकास अधिकारी गोला सुनिल कुमार कौशल से पुछने पर बताया गया। कि शिकायत मिली है। एक सप्ताह में जांच कर उचित कार्रवाई करवाते है।

38650cookie-checkग्राम प्रधान पर ग्रामीणों ने घोटाले करने का लगाया आरोप