बिहार में जनता के लिए,जनता शासन व्यवस्था –मुकुल
बिहार में पंचायतीराज व्यवस्था पारदर्शी-धनंजय

Spread the love

अमिटरेखा– कृष्णा यादव तहसील प्रभारी
तमकुहीराज —कुशीनगर
सीमावर्ती बिहार स्थित सुकसेनवा के समाजसेवी इम्तियाज खान द्वारा आयोजित ईद उल अजहा समारोह में क्षेत्रीय राजनैतिक दिग्गजों का बड़ा जमावड़ा हुआ। समारोह में वक्ताओं ने बिहार और यूपी के शासन प्रशासन की तुलना करते हुए बिहार के शासन व्यवस्था को लोकतंत्र के अनुरूप बताया। जनपद गोपालगंज स्थित मध्य विद्यालय सुकसेनवा में आयोजित इस कार्यक्रम में जिला पार्षद नीरज कुमार उर्फ मुकुल राय ने कहा कि बिहार में जनता का,जनता के लिए एवं जनता द्वारा स्थापित शासन व्यवस्था है जो बिल्कुल पार
दर्शी है वहीं पडो़सी राज्य उत्तर प्रदेश में शासन प्रशासन की दबंगई है यहां तक कि जनता द्वारा चुने प्रतिनिधियों को भी मतदान से वंचित रखा जाता है।बिहार में प्रशासन समाज के अंतिम तबके को भी मतदान से वंचित नहीं कर सकता।नीतीश कुमार की कार्यप्रणाली से उत्तर प्रदेश सरकार को सबक लेनी चाहिए।मृदु एवं मित्त भाषी पूर्व एमएलसी भाजपा नेता सुनील सिंह ने कहा कि बिहार में चुनाव लड़ने की स्वतंत्रता है जबकि यूपी के प्रमुख चुनाव में लोगों ने देखा कि मतदान के अधिकार का किस तरह मजाक बनाया गया। नीतीश के सरकार में बिजली,सड़क पानी आदि मूलभूत सुविधाएं यूपी से बेहतर है।प्रमुख संघ के जिलाध्यक्ष गोपालगंज धनंजय राय ने बिहार के पंचायतीराज व्यवस्था को उत्तर प्रदेश से अधिक पारदर्शी एवं सुदृढ़ बताया।वक्ताओं ने दोनों प्रदेशों के शासन व्यवस्था की तुलना करते हुए योगी सरकार पर तंज कसा।इस अवसर पर आयोजक समाजसेवी इम्तियाज खान उर्फ विधायक जी, समाजसेवी भोरे शंभू सिंह,पूर्व मुखिया मुन्ना सिंह,युवा राजद नेता श्रवण यादव,प्रधानाध्यापक अजय कुमार सिंह,शिक्षक सरताज आलम,जियाउल हक खान,कन्हैया कुमार राव,वशिष्ठ राम,ज्योति भूषण राव सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

71700cookie-checkबिहार में जनता के लिए,जनता शासन व्यवस्था –मुकुल
बिहार में पंचायतीराज व्यवस्था पारदर्शी-धनंजय