अपराधियों की 10 साल की संपत्तियों का ब्यौरा इकट्ठा कर जप्त की जाएगी सम्पति- डीआईजी/एसएसपी

Spread the love

सत्य प्रकाश यादव

ब्यूरो गोरखपुर। डीआईजी/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगिंदर कुमार अपराध व अपराधियों पर अंकुश लगाए जाने के लिये एक कदम आगे चलते हुए अपराधियों पर अंकुश लगाने के लिए अपराध की दुनिया में सम्मिलित पाए जाने के 10 साल का रिकॉर्ड खंगालते हुए अपराध से अर्जित किए गए संपत्तियों का ब्यौरा इकट्ठा कर संपत्तियों को जप्त करने की कार्रवाई क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारी द्वारा किया जायेगा। सभी क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। श्री कुमार ने बताया कि अपराध की दुनिया में आने वाले अपराधियों की 10 साल की संपत्तियों का ब्यौरा इकट्ठा कर अपराध से अर्जित किए गए संपत्तियों को जप्त करने की कार्रवाई की जाएगी जिससे अपराधों पर अंकुश लगाया जा सकेगा थानों पर रखे गए चार नंबर रजिस्टर को देखते हुए अपराध और अपराधियों पर अंकुश लगाने की कार्रवाई की जाएगी अगर कोई थाना प्रभारी इसमें किसी प्रकार की हीला हवाली करते हुए पाया जाता है तो थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अगर किसी मुकदमे में वादी को अभियुक्त द्वारा किसी प्रकार का दबाव बनाया जाता है की मुकदमा वापस ले लो तो अभियुक्त के खिलाफ पुनः मुकदमा दर्ज कर अभियुक्त को जेल भेजने का काम थाना प्रभारी द्वारा किया जायेगा अब तक जनपद में 1176 अपराधी सक्रिय रूप से लूट छिनैती बलात्कार जैसे संगीन अपराधों में संलिप्त हैं इनके ऊपर सभी थाना प्रभारी नजर बनाए रखें जिससे इन पर लगाम लगाया जा सके अब थाना प्रभारियों का एनसीआर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सर्विस पुस्तिका में कुंडली लिखने का कार्य करेंगे इससे पहले क्षेत्राधिकारी व पुलिस अधीक्षक के संतृप्ति पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एनसीआर लिखते थे लेकिन अब सर्विस पुस्तिका में एनसीआर थाना प्रभारी का वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा लिखा जायेगा जिससे थाना प्रभारियों पर लगाम लगाने में अहम भूमिका साबित हो सकता है।

41310cookie-checkअपराधियों की 10 साल की संपत्तियों का ब्यौरा इकट्ठा कर जप्त की जाएगी सम्पति- डीआईजी/एसएसपी