आगामी 2022 के चुनाव में क्षत्रियों को जोड़ने के लिए सपा ने मिशन पर लगाया लोकप्रिय जननायक पूर्व विधायक अभय सिंह को

Spread the love

 मनोज तिवारी ब्यूरो रिपोर्ट अयोध्या
इधर पंचायत चुनाव की  सरगर्मी के साथ-साथ आगामी 2022 की चुनावी रणनीति के मद्देनजर क्षत्रियों पर भरोसा दिखाते हुए सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सपा से क्षत्रियों को बृहद रूप से जोड़ने के लिए कमर कस ली है अखिलेश यादव ने अपने सभी पुराने क्षत्रिय सिपहसालार ओं को मोर्चे पर लगा दिया है जिसमें गोसाईगंज विधानसभा से पूर्व विधायक अभय सिंह को अखिलेश यादव द्वारा क्षत्रियों को जोड़ने में मां को जिम्मेदारी देने की संभावनाएं जताई जा रही हैं सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रियता को देखते हुए और मोदी लहर में उस मतों के अंतर से पराजित होने वाले पूर्व विधायक अभय सिंह पर पार्टी नेतृत्व ने भरोसा दिखाया है बताते चलें अभय सिंह न केवल जिले में बल्कि पूर्वांचल के क्षत्रियों के मध्य अपने अनोखे व्यक्तित्व व समाज के प्रकार शीलता के कारण काफी लोकप्रिय हैं और उनके मधुर संबंधों की चर्चा प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रीय नेताओं चाहे जिस दल से संबंध रखते हैं से अच्छी खासी मानी जाती है बताते चलें गाड़ियों के शौकीन अभय सिंह ने 2022 के चुनाव में दमदार इसे पार्टी का नेतृत्व संभालने के उद्देश्य से 5 डिफेंडर गाड़ियों की बुकिंग करा ली है बताया जाता है इसका किराया ढाई करोड रुपए है निश्चित ही समाजवादी पार्टी की क्षत्रियों को जोड़ने की गणित मुस्लिम यादव और ठाकुर के पुराने गठबंधन को फिर से तरोताजा करने में कामयाब अगर होती है तो पार्टी की इस रणनीति से आगामी चुनाव में समाजवादी पार्टी को भारी फायदा पहुंचने वाला निश्चित है।

14750cookie-checkआगामी 2022 के चुनाव में क्षत्रियों को जोड़ने के लिए सपा ने मिशन पर लगाया लोकप्रिय जननायक पूर्व विधायक अभय सिंह को