तरया सुजान थाने के तीन फेडियाँ पुलिस चौकी क्षेत्र में शराब की लूट ग्रामीण शराब लेकर भागे

Spread the love

शराब तस्कर एवं पुलिस चौकी प्रभारी से मारपीट में बुलेट मोटरसाइकिल का चाबी गायक

अपर पुलिस अधीक्षक कुशीनगर ने क्षेत्राधिकारी तमकुहीराज को घटना की जांच सौंपी
अमिटरेखा– कृष्णा यादव तहसील प्रभारी
तमकुही राज —कुशीनगर
सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार बिहार प्रांत में शराब तस्करी के माध्यम से 2 पिकअप हरियाणा निर्मित शराब तीन फेड़िया पुलिस चौकी के रास्ते पुलिस सांठगांठ के माध्यम से बिहार के लिए जा रही थी की शनिवार के सायंकाल तिन फेडियां पुलिस चौकी प्रभारी ने एक पिकअप को रोक लिया जिस पर शराब तस्कर आग बबूला हो गए कहने लगे कि दो गाड़ी के लिए ₹40000 का सौदा तय हुआ है इस गाड़ी को मत रोकिए जाने दीजिए वही पुलिस चौकी प्रभारी स्वयं शराब रोकने के लिए हट करने लगे। जिसके कारण तसकरो तथा चौकी प्रभारी से हाथापाई होने लगी सी बीच बुलेट मोटरसाइकिल की चाबी चौकी इंचार्ज की गिर गई मार मारपीट करते समय मोटरसाइकिल की चाबी तस्करों के हाथ लग ग ई वह चाबी लेकर पिकअप सहित जबरदस्ती बिहार प्रदेश में प्रवेश कर गए पुलिस की भारी दबाव में आने के कारण दूसरे पिकअप को डर करके गन्ने के खेत मे शराब को छुपा दिए तथा फरार हो गए दूसरे दिन रविवार की सुबह किसी ग्रामीण में गन्ने के खेत में हरियाणा निर्मित शराब छुपा कर रखने की जानकारी हुई उसने अपने गांव में शोर कर दिया देखते ही देखते हैं तिनफेड़िया से पथरवाँ-जाने वाली सड़क पर लोगों का तांता लग गया लोग झोला -बोरा में शराब भरकर भागने लगे इतनी घटना होने के बाद भी तीन भेड़िया की पुलिस मौके पर नहीं पहुंची यह खबर जंगल की आग की तरह फैल गई सूत्रों की जानकारी के अनुसार इसके पहले भी तिनफेड़िया बाजार में शराब तस्कर का स्थानीय पत्रकार से झड़प भी हुई पत्रकार ने मोटरसाइकिल पर लाद कर ले ले जा रहे हैं दो मोटरसाइकिल वालों को रोका जिस पर प्लास्टिक की बोरी में शराब लादकर बांधा गया था तब तक उसी बीच तीसरा तस्कर भी एक व्यक्ति के साथ पहुंच गया पत्रकार और तष्कर से कहासुनी और धक्का-मुक्की होने लगी जिस पर तस्कर ने पत्रकार को जान से मारने की धमकी देते हुए देख लेने की धमकी दी जिसकी शिकायत पत्रकार द्वारा तिनफेडियां चौकी में दी गई लेकिन पुलिस के इसको ठंडे बस्ते में डाल दिया तिनफेडिया पुलिस चौकी शराब तस्करी के मामले में आजकल चर्चा में है पुलिस चौकी पर शाम को तस्करों का जमावड़ा लगा रहता है जिसका जिसका परिणाम है कि खुलेआम पिकअप पर लोड करके तस्कर शराब तस्करी करने के लिए आमादा हैं पुलिस की मिलीभगत तथा उनकी कमजोर नस को पकड़ लिए है जिसका परिणाम था कि मारपीट की प्र तिक्रिया सामने आयी हैं उनका कहना भी है जब पुलिस पैसा ले रही है फिर दरोगा जी क्यों रोक रहे हैं दरोगा जी स्वयं शराब बिक्री करने के लिए व्याकुल है इनको मोटा रकम चाहिए इस घटना की सूचना उप पुलिस अधीक्षक कुशीनगर जब अयोध्या प्रसाद जी को हुई तो उन्होंने सख्त कदम उठाते हुए संपूर्ण घटना की जांच तमकुही राज पुलिस क्षेत्राधिकारी फूलचंद कनौजिया को सौंपा है जांच के बाद ही पुलिस किसी निष्कर्ष पर पहुंचेगी इस वक्त तीन भेड़िया बाजार के अगल-बगल गांव में शराब तस्करी व शराब लूट की आम चर्चा आम हो रही है।

69700cookie-checkतरया सुजान थाने के तीन फेडियाँ पुलिस चौकी क्षेत्र में शराब की लूट ग्रामीण शराब लेकर भागे