July 16, 2024

सिओ फरेंन्दा सुनील दत्त दूवे के अथक प्रयास के बाद पति-पत्नी में नहीं हो सका समझौता

Spread the love

अमिट रेखा सुनील पांडेय
ब्यूरो महराजगंज मंडल प्रभारी

क्षेत्राधिकारी की कोशिशें गई बेकार अब तक जनपद में सैकड़ों पति पत्नियों के बीच दरार को पाटने में महारत हासिल करने वाले क्षेत्राधिकारी सुनील दत्त दुबे की कोशिशें हुईं फेल। चर्चा बना ए प्रकरण।

फरेंदा थाना क्षेत्र के ग्राम उदितपुर की स्थाई निवासी है। जबकि लड़का पक्ष। दुर्गेश गुप्ता पुत्र हरीश चंद गुप्ता ग्राम पंचायत दूल्हा सुमाली टोला फसादीपुर पोस्ट ककरहवा जिला सिद्धार्थ नगर निवासी है। यह मामला पूरा पूनम गुप्ता पति दुर्गेश गुप्ता के आपसी वैवाहिक जीवन में आपसी मतभेद के कारण दोनों में सहमति से एक साथ न रहने का मामला प्रकाश में आया जिसमें क्षेत्राधिकारी सुनील दत्त दुबे के संज्ञान में आया क्षेत्राधिकारी सुनील दत्त दुबे ने बताया की ऐसे कई वैवाहिक परिवारिक मामले सुलझाए हैं लेकिन यह मामला लगातार कई घंटों तक समझाने का अथक प्रयास किए जबकि लड़का पक्ष के तरफ से हर एक शर्त मानने को तैयार लेकिन लड़की लड़के के साथ जाने से इंकार कर रही है। जबकि लड़का पक्ष के लोग और लड़का लड़की को साथ ले जाने की जिद कर रहे है। वह अपने साथ ले जाना चाहता है। और अपनी कमियों को दूर करना चाहता है। और आगे से ऐसी स्थिति नहीं होगी यह सीओ साहब के सामने वह अपनी बातों को रख रहा है। जबकि फरेंदा सीओ सुनील दत्त दुबे ने ऐसे कई मामलों को पलभर में ही आपसी सहसंबंध बनवा कर के परामर्श केंद्र पर दोनों में सहमति रजामंदी करवा कर जयमाल करा कर कई ऐसे शादीशुदा जोड़ों को बिछड़े हुए जोड़ों को मिलवाया है। वैवाहिक जीवन में आपसी मतभेद के जितने भी मामले हमारे पास आए हैं। उसमें से ऐसा पहला मामला है। की मेरे और हमारे सहयोगी यों एवं पत्रकार बंधुओं के लाख समझाने बुझाने के बाद भी और सभी के अथक प्रयास करने के बाद भी लड़की ने उनकी बातों से सहमति न जताते हुए लड़के के घर जाने से इनकार। इस संबंध में फरेंदा सीओ सुनील दत्त दुबे ने बताया कि मैंने ऐसे कई आपसी सहमति न होने वाले जोड़ों को मिलवाया है लेकिन यह एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जो हर संभव और अथक प्रयास और हर तरह से मैंने प्रयास किया लेकिन लड़का पक्ष हर शर्त मानने को तैयार लेकिन लड़की मायके एवं लड़के के घर जाने से कर रही है बार बार इनकार। और लड़की से अथक प्रयास किया गया समझाने बुझाने को लेकिन वह लड़के के घर जाने से केवल कर रही है इनकार। मेरी बात को मानने से समझने से कर रही इन्कार।सिओ फरेंन्दा के अथक प्रयास के बाद पति-पत्नी में नहीं हो सका समझौता क्षेत्राधिकारी की कोशिशें गई बेकार अब तक जनपद में सैकड़ों पति पत्नियों के बीच दरार को पाटने में महारत हासिल करने वाले क्षेत्राधिकारी सुनील दत्त दुबे की कोशिशें हुईं फेल। चर्चा बना ए प्रकरण।

87210cookie-checkसिओ फरेंन्दा सुनील दत्त दूवे के अथक प्रयास के बाद पति-पत्नी में नहीं हो सका समझौता