साहब मुझे मेरे पड़ोसियों से बचा लो नहीं तो मार डालेंगे हमारा हिस्सा भी हड़प चुके हैं मुझे मजबूरन झोपड़पट्टी में रहना पड़ रहा है

Spread the love

मनोज तिवारी ब्यूरो रिपोर्ट अयोध्या 

उक्त कहावत है सुमन यादव पत्नी बृजेश कुमार यादव जो बीकापुर कोतवाली क्षेत्र के कोदैला गांव के निवासी हैं। इन्हें अपने ही मकान में रहने के लिए बेदखल कर दिया गया इनके पड़ोसियों ने इनकी जमीन को जबरन कब्जा करके इनको रोड पर ला खड़ा कर दिया है तहसील और थाने का चक्कर लगाते लगाते पति-पत्नी थक हार कर मजबूरन मीडिया के पास पहुंचे इनका आरोप है कि गांव निवासी राम धीरज व राम तीरथ पुत्र गण हौसला प्रसाद द्वारा घर हवाई सरिया जबरन कब्जा कर लिया गया है इनके द्वारा करीब दो दर्जन प्रार्थना पत्र दिया जा चुका है किंतु अभी तक कोई कार्यवाही शासन प्रशासन ने नहीं की है पीड़िता का आरोप है कि अब मीडिया के अलावा मेरे पास अधिकारियों को सूचना देने के लिए कोई भी दरवाजा खुला दिख नहीं रहा है अधिकारियों के दरवाजे आज सिर्फ दिखावटी बने हुए हैं प्रार्थना पत्र मिलने के बाद पुलिस जब पहुंचती है तो विपक्ष से मिलकर प्रार्थिनी की बातों को अनसुना कर एक तरफा कार्रवाई करके पीड़िता को ही धमका कर वापस चली जाती है ऐसे में पीड़ित को कैसे मिलेगा मैं यह सोचने का विषय है यह कारनामा यहां पर बैठे तहसील में उप जिला अधिकारी बीकापुर तहसीलदार बीकापुर पुलिस क्षेत्राधिकारी बीकापुर इंस्पेक्टर बीकापुर सभी के संज्ञान में है फिर भी एक सफेदपोश दबंग नेता के दबाव के चलते पीड़िता को न्याय मिलना टेढ़ी खीर बना हुआ है।

19470cookie-checkसाहब मुझे मेरे पड़ोसियों से बचा लो नहीं तो मार डालेंगे हमारा हिस्सा भी हड़प चुके हैं मुझे मजबूरन झोपड़पट्टी में रहना पड़ रहा है