पूर्व प्रधान और उसके सहयोगियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठी महिला

Spread the love

अमिट रेखा/अजय तिवारी/नेबुआ नौरंगिया/कुशीनगर 

नेबुआ नौरंगिया थानाक्षेत्र के एक गांव में सोमवार को एक और परिवार ने बगल गांव के पूर्व प्रधान और उसके बेटे पर जबरन फसल जोतने तथा रोकने जाने पर कपड़ा फाड़ने और अर्धनग्न करके ट्रैक्टर से कुचलने के प्रयास करने का आरोप लगाते हुवे अपने घर के सामने ही अनिश्चित कालीन आमरण अनशन पर बैठ गयी है। मामले में उच्चाधिकारियों को लिखित शिकायती पत्र भेजा गया था, लेकिन अभी तक किसी भी तरह के सार्थक कार्यवाही नही होने से परिवार में आक्रोश है। सोमवार को दोपहर बाद नायब तहसीलदार और नेबुआ नौरंगिया एसओ मौके पर जाकर समझाने का प्रयास किए लेकिन अनशन जारी है।
नेबुआ नौरंगिया थानाक्षेत्र के एक गांव निवासिनी महिला ने बगल गांव के पूर्व प्रधान उसके बेटे और दो अज्ञात लोगों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। इसकी लिखित शिकायत डीएम, एसपी सहित अन्य और उच्चाधिकारियों को भेजी गई है। वहा से भी उसे न्याय नहीं मिला। जिसके बाद हार थककर वो सोमवार की सुबह दस बजे अपने ही घर के सामने अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर परिवार की अन्य और महिलाओं के साथ बैठ गई है। महिला के अनुसार जुलाई माह के 20 तारीख को बिना जमीन पैमाईश तथा बिना सक्षम अधिकारी के आदेश के ही बगल गांव के पूर्व प्रधान उसके बेटे और दो अज्ञात लोगों ने हमारे खेत में जाकर हमारे फसल को जोत लिया। जब हम मौके पर पहुंचे और विरोध किए तो पूर्व प्रधान तथा उसके बेटे ने मेरा कपड़ा फाड़कर अर्धनग्न कर दिया, तथा ट्रैक्टर से कुचलवाने का प्रयास करने लगे। आते जाते राहगीरों ने जान बचाई। महिला के अनुसार उसके पास सारे साक्ष्य वीडियो के तौर पर मौजूद है। न्याय नहीं मिलने पर महिला परिवार के साथ अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर बैठ गई है। अनशन की सूचना पर नायब तहसीलदार और एसओ मौके पर गए। काफी समझाने का प्रयास किया लेकिन आरोपियों पर कार्यवाही की जिद पर अड़ी महिला ने अनशन नहीं तोड़ा है। खबर लिखे जाने तक अनशन जारी था।

148790cookie-checkपूर्व प्रधान और उसके सहयोगियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठी महिला