पालिका रो रही बजट के अभाव में 12आउट सोर्सिंग कर्मियों को रखा फिर किस भाव में: सभासदों की आवाज़

Spread the love


अमि ट रेखा रिपोर्टर नफीस
पूरे सत्र बधाई,पर्व एवं स्वच्छता संदेशों का प्रकाशन रोक बचाई धनराशि
पिहानी/हरदोई।

कस्बे के बेरोजगार युवकों की काबिलियत पर पिहानी पालिका प्रशासन ने नहीं दी कोई अहमियत।आउट सोर्सिंग पर लगाए गए अन्यत्र स्थान के 12 नए कर्मचारी।नगर पालिका कार्यालय की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रहीं हैं यहाँ कोरोना काल में लाॅकडाउन के दौरान चेयरमैन के स्वर्गवास हो जाने के बाद से परगना अधिकारी एसडीएम शाहाबाद अतुल प्रकाश श्रीवास्तव माह जुलाई वर्ष 2020 में अतिरिक्त प्रशासक नियुक्त हुए तो उन्होंने बजट का भारी अभाव पाया इसलिए उन्होंने कार्यभार सँभालते ही आउटसोर्सिंग पर लगे कई कर्मचारियों को ड्यूटी से निकालकर बाहर कर दिया।यहाँ तलक कि बजट का रोना रोकर वर्ष 2020 के पूरे सत्र में आवश्यक विज्ञापनों को भी समाचार पत्रों में प्रकाशित कराने में कंजूसी की गई।अधिशाषी अधिकारी अहिबरन लाल का कहना है कि अखबारों में स्वच्छता अथला पर्वों या आवश्यक दिवसों के बधाई संदेश के सरकारी विज्ञापन प्रकाशन पर पाबंदी लगा कर पालिका में जो धनराशि बचाई गई है उससे नगर विकास के कई छोटे-मोटे कार्य निपटा रहे हैं।विभिन्न समाचार पत्रों का तकरीबन 17 लाख रुपए का पिछला भुगतान पालिका पर बकाया बताकर बजट का जमकर रोना रोया जा रहा है।ज्ञात हो कि बीती तारीख 14 दिसम्बर को पालिका सभागार में हुई बोर्ड बैठक के दौरान नगर विकास के मुद्दों पर आवाज उठाई गई थी तो पालिका प्रशासक उप-जिलाधिकारी शाहाबाद अतुल प्रकाश श्रीवास्तव ने जवाब दिया था कि ‘”मुझे कष्ट है कि बजट के अभाव में नगर विकास की छोटी-मोटी समस्याओं का निपटारा भी मुश्किल हो रहा है।”‘उसके बावजूद भी तकरीबन दो दिन पूर्व नगर पालिका परिषद पिहानी जनपद हरदोई की कार्यपालिका में प्रशासक द्वारा 5 पूर्व निष्कासित आउटसोर्सिंग कर्मचारी और 7 नए कर्मचारी नियुक्त किए गए हैं और वो कर्मी पालिका क्षेत्र के तो दूर बल्कि दूर दराज के रहने वाले हैं।नगर की जनता और सम्मानित सभासदों में इस बात को लेकर काफी रोष व्याप्त है कि जब बजट का अभाव है तो कुल 12 नए कर्मचारी आउटसोर्सिंग पर क्यूँ बढ़ाए गए जिनका प्रतिमाह पूर्वानुमानित वेतन तकरीबन ₹ 100000/प्रतिमाह का अतिरिक्त खर्चा पालिका की किसी निधि से ही वहन होगा और अगर कर्मचारी बढ़ाना आवश्यक था तो क्या हमारे नगरीय क्षेत्र में कोई बेरोजगार नगर पालिका के काबिल न था।आखिर कस्बे के बेरोजगार युवाओं को छोड़कर अन्यत्र जगहों के लोगों को नगर पालिका पिहानी में आउटसोर्सिंग पर क्यूँ रखा गया।सवालों के घेरे में पालिका प्रशासक हैं कि आखिर आउटसोर्सिंग में नवनियुक्त कर्मियों के लिए एक लाख रुपए महीना का बजट कहाँ से आएगा? # डाॅ शिफा पिहानी जनपद हरदोई। __

14870cookie-checkपालिका रो रही बजट के अभाव में 12आउट सोर्सिंग कर्मियों को रखा फिर किस भाव में: सभासदों की आवाज़