महिला डॉक्टरों की लापरवाही पर डीएम की बड़ी कार्रवाई, सील हुआ पैथोलॉजी

Spread the love

अमिट रेखा गोरखपुर
सत्य प्रकाश यादव

गोरखपुर जिले में दिव्यांग शिशु पैदा होने के मामले में जिलाधिकारी के निर्देश पर डॉ. काजल वर्मा से संबंधित सहजनवां का पैथोलॉजी सेंटर सील कर दिया गया है। साथ ही पंजीकरण भी निरस्त कर दिया गया है।जानकारी के मुताबिक, डीएम के विजयेंद्र पांडियन के निर्देश पर शनिवार को सहजनवां तहसीलदार शशि भूषण पाठक और सहजनवां सीएससी अधीक्षक व प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार यादव की मौजूदगी में डॉ. काजल वर्मा से संबंधित पैथोलॉजी सेंटर पर कार्रवाई हुई है।  गौरतलब है कि गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य के बारे में गलत जानकारी देकर छल करने के आरोप में शहर के तीन महिला समेत चार डॉक्टरों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया था। इन आरोपी डॉक्टरों ने विभिन्न जांच रिपोर्टों के आधार पर एक महिला के जिस गर्भस्थ शिशु को पूरी तरह से स्वस्थ बताया, वह शारीरिक और मानसिक रूप से दिव्यांग पैदा हुआ। शिकायत के बाद सीएमओ ने मेडिकल बोर्ड से जांच कराई तो डॉक्टरों पर लगाए गए आरोप सही पाए गए। इसके बाद जांच रिपोर्ट व तहरीर के आधार पर कैंट पुलिस ने मामला दर्ज करके तहकीकात शुरू कर दी थी। जिसके तहत शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई की गई है। 

13750cookie-checkमहिला डॉक्टरों की लापरवाही पर डीएम की बड़ी कार्रवाई, सील हुआ पैथोलॉजी