किसान बिल के विरोध में सपाइयों ने किया गोष्ठी

Spread the love


अमिट रेखा-अल्केन्द्र पाण्डेय
तहसील प्रभारी
तमकुही राज/कुशीनगर, केन्द्र की मोदी सरकार तथा राज्य की योगी सरकार में किसान सबसे ज्यादा उपेक्षित।तुगलकी फरमान के तहत जबरन लागू किया गया किसान बिल। वर्तमान सरकार के उक्त फरमान से किसानों की स्थिति बद से बद्तर।सदन में बीना चर्चा किए तथा किसानों को बीना विश्वास में लिए पूंजीपतियों को फायदा दिलाने के लिए लागू किया गया किसान बिल।जिसका समाजवादी पार्टी पुरजोर विरोध करती हैं।
उक्त बातें समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के आह्वान पर मोदी सरकार के द्वारा पारित किसान बिल के विरोध में तमकुही राज विधानसभा के ग्राम पंचायत कोईन्दी बुजुर्ग में स्थानीय सपा कार्यकर्ताओं द्वारा आयोजित गोष्ठी में सपा नेता व पूर्व जिला पंचायत सदस्य राजेश सिंह ने कहीं। वहीं निवर्तमान प्रदेश सचिव सुरेश यादव ने किसान बिल के विरोध में अपनी पार्टी का स्टेण्ड साफ करते हुए आगामी विधानसभा चुनाव में उपस्थित किसानों से अधिक से अधिक संख्या में पार्टी से जुड़ने की अपील की। इस दौरान त्रिभुवन प्रसाद जायसवाल पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष सेवरही, जाकिर हुसैन निवर्तमान विधानसभा अध्यक्ष तमकुही राज आदि सपा नेताओं ने भी गोष्ठी को संबोधित किया। गोष्ठी का संचालन युवा नेता बबलू अली ने किया।इस अवसर पर नथुनी यादव,अजय यादव, विरेन्द्र यादव, आमिर आलम आदि किसान उपस्थित थे।

12320cookie-checkकिसान बिल के विरोध में सपाइयों ने किया गोष्ठी