ग्राम सभा सखिनी मे मनाई गई अंबेडकर जयंती- ग्रामीण जनता ने किया पुष्प अर्पित-

Spread the love

ग्राम सभा सखिनी मे मनाई गई अंबेडकर जयंती-
ग्रामीण जनता ने किया पुष्प अर्पित-
राजू प्रसाद श्रीवास्तव-
लखनऊ
उत्तर प्रदेश के जनपद देवरिया के ब्लाक पथरदेवा के अंतर्गत ग्राम सभा सखिनी मे आज 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती मनाई गई। आज के दिन लोगों में उत्साह दिखा, कोरोना काल मे भी सभी लोग नियम व निर्देश का पालन करते दिखे। ग्रामीण जनता के द्वारा एक एक करके बाबा साहब के चित्र पर लोगो ने श्रद्धा सुमन अर्पित किया। आप सभी को बतादूँ की डॉ. बी आर अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल, 1891 को महाराष्ट्र के एक महार परिवार में हुआ। इनका बचपन ऐसी सामाजिक, आर्थिक दशाओं में बीता जहां दलितों को निम्न स्थान प्राप्त था। दलितों के बच्चे पाठशाला में बैठने के लिए स्वयं ही टाट-पट्टी लेकर जाते थे। वे अन्य उच्च जाति के बच्चों के साथ नहीं बैठ सकते थे। डॉ. अम्बेडकर के मन पर इस छुआछूत का व्यापक असर पड़ा जो बाद में विस्फोटक रूप में सामने आया। स्वतंत्र भारत के पहले कानून और न्याय मंत्री के रूप में मान्यता प्राप्त, भारतीय गणराज्य की संपूर्ण अवधारणा के निर्माण में अम्बेडकर का योगदान बहुत बड़ा है।
 स्वतन्त्र भारत के संविधान निर्माता, दलितों के मसीहा, समाज सुधारक डॉ० भीमराव अम्बेडकर एक राष्ट्रीय नेता भी थे। सामाजिक भेदभाव, अपमान की जो यातनाएं उनको सहनी पड़ी थीं, उसके कारण वे उसके विरुद्ध संघर्ष करने हेतु संकल्पित हो उठे। उन्होंने उच्चवर्गीय मानसिकता को चुनौती देते हुए निम्न वर्ग में भी ऐसे महान कार्य किये, जिसके कारण सारे भारतीय समाज में वे श्रद्धेय हो गये।
डॉ० अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को महू इन्दौर (म०प्र०) में हुआ था। उनके बचपन का नाम भीम सकपाल था। उनके पिता रामजी मौलाजी सैनिक स्कूल में प्रधानाध्यापक थे। उन्हें मराठी, गणित, अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान था। भीम को भी यही गुण अपने पिता से विरासत में मिले थे। उनकी माता का नाम भीमाबाई था। सार्वजनिक कुओं से पानी पीने व मन्दिरों में प्रवेश करने हेतु अछूतों को प्रेरित किया। ऐसे महान व्यक्ति के जयंती पर आज गांव के सम्भ्रांत शुभनरायन, रामभवन, अशोक कुमार, चन्द्रभान गौतम, पवन , अवधेश प्रसाद, राकेश , अश्लोक कुमार, जिंतेंद्र, जगदीश, बीरू, गुमानी, तूफानी, गोपाल, कृपाल, शैलेश, काशी, धर्मेंद्र, राजेश, गुड्डू, शनि कुमार , सन्दीप, प्रेम, व समस्त ग्रामीण एवं सखिनी के समस्त प्रधान प्रत्यासी व बीडीसी प्रत्यासी उपस्थित होकर बाबा साहब के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

59780cookie-checkग्राम सभा सखिनी मे मनाई गई अंबेडकर जयंती- ग्रामीण जनता ने किया पुष्प अर्पित-