July 15, 2024

*गौरी शंकर मंदिर के पास जमे कूड़े और कचरों से आस – पास का वातावरण हो रहा है दूषित*

Spread the love

 अमिट रेखा पवन पांडेय।कैम्पियरगंज गोरखपुर। कैंम्पियरगंज क्षेत्र के भौरिहवा गांव से सटा गौरी शंकर मंदिर अपने पौराणिक कथाओं और भव्यता के लिए दूर – दूर तक काफी चर्चित है पर पिछले कुछ महीनों से यहां के स्थानीय निवासियों द्वारा मंदिर के पीछे कूड़ा कचरा फेंककर काफी गंदगी फैलाई जा रही है । गौरी शंकर मंदिर में सैकड़ों लोग सप्ताह में हर सोमवार को काफी दूरी तय करके जलाभिषेक करने के लिए आते हैं पौराणिक कथाओं व मान्यताओं के अनुसार जो कोई भी व्यक्ति यहां श्रृद्धा के साथ बाबा भोलेनाथ से मन्नत मांगने आता है उसकी मुराद जरूर पूरी होती है जानकारी के अनुसार मंदिर की देखभाल और पूजा पाठ करवाने की सारी जिम्मेदारी यहां के गोसाईं (गिरी) वंश के लोगों के ही हाथों में रही है पर पिछले कुछ महीनों से मंदिर के पीछे वाले हिस्से में पड़ी खाली जमीन पर लोग अपने घरों और दुकानों का सारा कचरा फेंक रहे हैं जिससे मंदिर स्थल का वातावरण काफी दूषित हो रहा है ऐसे में एक ओर सरकार जहां स्वच्छता अभियान पर काफी जोर देर रही है वहीं आज हमारे सामने अगर भगवान ही प्रदूषित वातावरण में रहने को मजबूर हो जाएं तो ये स्थानीय निवासियों व प्रशासन के लिए काफी शर्म की बात होगी ।

51640cookie-check*गौरी शंकर मंदिर के पास जमे कूड़े और कचरों से आस – पास का वातावरण हो रहा है दूषित*