दो से पांच दिनों में तय होना है पंचायतों का आरक्षण, दिन रात तैयारी में जुटा महकमा

Spread the love

अमिट रेखा दिनेश गुप्ता।भटनी देवरिया दो से पांच दिनों में ही आरक्षण तय होना है। ऐसे में पंचायतवार अलग-अलग टीम बनाई गई है।न्यायालय के आदेश के परिप्रेक्ष्य में जिला पंचायत अध्यक्ष का आरक्षण शासन ने तय कर दिया है। जिला पंचायत सदस्य, ब्लाक प्रमुख के लिए आरक्षण का आवंटन कर दिया है। इसी क्रम में शासन की ओर से बुधवार को आरक्षण निर्धारण की गाइडलाइन जारी कर दी गई। इसके अनुसार जिला स्तर पर ग्राम पंचायत प्रधानों, क्षेत्र पंचायत प्रमुखों, सदस्यों के आवंटन किया जाना है।इतना ही नहीं 20 से 22 मार्च के बीच आरक्षण तय कर सूची प्रकाशित की जानी है। यानी, पंचायतों के आरक्षण की संभावित सूची प्रकाशित करने के लिए जिला प्रशासन को पांच दिन मिले हैं। इसलिए इस प्रक्रिया में अतिरिक्त टीमें लगाई गईं हैं। इसके बावजूद स्थिति यह है कि डाटा का मिलान करने के लिए कर्मचारी दिन रात एक कर रहे। ताकि, काम जल्दी हो जाए और त्रुटि भी न होने पाए। हालांकि, इस काम में लगी टीम के लिए राहत की बात इतनी जरूर है कि पंचायत एवं जातिवार आंकड़े पहले से उपलब्ध हैं। ब्लाक प्रमुखी के सहारे सियासी छलांग की तैयारी, आरक्षण पर नजरनए सिरे आरक्षण की प्रक्रिया में जिला पंचायत अध्यक्ष का पद अनारक्षित हो गया है। अब सबकी नजर ब्लाक प्रमुखी और प्रधानी के आरक्षण पर है। ब्लाक प्रमुखी के सहारे सियासी छलांग लगाने की तैयारी में जुटे कई नेताओं का भविष्य इस आरक्षण पर निर्भर है।

49970cookie-checkदो से पांच दिनों में तय होना है पंचायतों का आरक्षण, दिन रात तैयारी में जुटा महकमा