अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर केन्द्र पुरोनिर्धारित मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने पिछले 5 सालों से अधिक समय से बकाया वेतन भुगतान हेतु जिला अधिकारी को दिया ज्ञापन

Spread the love

अमिटरेखा-परवेज आलम
हतवा भटनी/देवरिया

जिले मे एक तरफ जहाँ आज अल्पसंख्यक अधिकार दिवस मनाया जा रहा है वहीं अल्पसंख्यक समुदाय के बच्चों को शिक्षा देने वाले
पूरे उत्तर प्रदेश के 21546 मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों को पिछले पाँच सालों से अधिक समय से मानदेय केंद्राँश नही
मिलने की वजह से मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने माननीय प्रधानमंत्री, शिक्षामंत्री, अल्पसंख्यक मंत्री एवं मुख्यमंत्री
महोदय को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी महोदय को सौंपा
मण्डत संयोजक नियाज अहमद ने बताया, कि मदरसा शिक्षकों पर मुसीबतों का पहाड़ टूट रहा है. दिसंबर का महीना मदरसा
शिक्षकों के लिये मौत का महीना बन कर आया है. इस महीने में अब तक चार मदरसा शिक्षकों बलरामपुर के उमानाथ सिंह,
संभल की तरन्नुम वेगम, महराजगंज के सुनील कुमार यादव, कुशीनगर के जितेन्द्र कुमार गुप्ता की मौत हो चुकी है। इस माह हुई चार मदरसा शिक्षकों की मौतों ने मदरसा शिक्षकों को पूरी तरह से हिलाकर रख दिया है। प्रदेश में अब तक 60 से अधिक मदरसा शिक्षकों की आर्थिक तंगी की वजह से दर्दनाक मौत हो चुकी है शिक्षकों के हालात बद से बत्तर हो गए हैं।
प्रदेश अध्यक्ष अशरफ अली उर्फ सिकन्दरबाबा के आह्वान में पूरे प्रदेश भर में मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के मौके पर जिलाधिकारी के माध्यम से माननीय प्रधानमंत्री,शिक्षामंत्री, अल्पसंख्यक मंत्री एवं मुख्यमंत्री
महोदय को सम्बोधित ज्ञापन दिया गया है। मदरसा शिक्षक एकता समिति उ०प्र० के जिलाध्यक्ष मजहर अली ने बताया कि मदरसा आधुनिकीकरण योजना भारतीय जनता पार्टी के घोषणापत्र में भी शामिल रही है इसी को आधार मानकर मदरसा शिक्षाकों ने मोदी जी नेतृत्व में सरकार बनाने हेतु समाज के लोगों को समर्थन हेतु भरसक प्रयास भी किया था। मदरसा आधुनिकीकरण योजना देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत स्नश्रदेय स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई जी की ड्रीम योजना थी। जिसके माध्यम से उन्होंने अल्पसंख्यक समाज के लोगों को मुख्यधारा में लाने का सपना देखा था तथा समय-समय पर अल्पसंख्यक समाज के शैक्षिक एवं सामाजिक स्थान हेतु निरंतर प्रयास की बात कही है। राज्य सरकार का शुक्रिया अदा करते हुए मजहर अली ने कहा कि मौजूदा राज्य सरकार आधुनिक अध्यापकों का राज्यांश समय पर दे रही है। जिला उपाध्यक्ष मो. तौसिफ अहमद ने अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के मौके पर मदरसा शिक्षकों के बकाया मानदेय को तत्काल जारी करने, वेतन भुगतान प्रतिमाह किये जाने तथा विभागीय स्तर पर प्रपत्रों के वित होने की दशा में शिक्षकों के वेतन मानदेय को न रोके जाने एवं वेतन के अभाव में दिवंगत सभी मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों के परिवारों को तत्काल आर्थिक मदद प्रदान किये जाने हेतु आज प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर एक साथ ज्ञापन दिया गया। इस अवसर पर ज्ञापन देने वालों में मदरसा भटनी से मो.परवेज व अन्य मदरसों से फखरुद्दीन, मुख्तार अंसारी, शफीउल्लाह, मोहम्मद सलीम, आदि मदरसा आधुनिक शिक्षक उपस्थित रहे।

8110cookie-checkअल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर केन्द्र पुरोनिर्धारित मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने पिछले 5 सालों से अधिक समय से बकाया वेतन भुगतान हेतु जिला अधिकारी को दिया ज्ञापन