Spread the love

विश्व भूजल दिवस पर प्रधानमंत्री  द्वारा सम्बोधन कार्यक्रम में जिलाधिकारी,सीडीओ व सम्बन्धित अधिकारी गण -अमिट रेखा सुनील पांडेयब्यूरो महाराजगंज। विश्व भूजल दिवस के शुभ अवसर पर मा0 प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र दास मोदी द्वारा बीडियों कांफ्रिंग के माध्यम जल संचय कार्यक्रम में देश वासियों को सम्बोधित पूर्व 5 ग्राम सरपंचो से वार्ता कर जल संचय की जानकारी ली । यह कार्यक्रम कलेक्टेट सभागार में जिलाधिकारी,सी डी ओ व ज्वाइन्ट मजिस्टेट तेजा साई सिलम की उपस्थिति में कार्यक्रम सम्मन्न हुआ । इस अवसर पर जल शक्ति अभियान के अन्तर्गत अटल भू जल में केन नदी मध्यप्रदेश व वेतवा नदी उ0प्र0 को जोडने की कार्यवाही पूरी की गयी ।प्रधान मंत्री ने जल सचयन कार्यक्रम में कहा कि मानसून पूर्व पूरी तैयारिया पूर्ण कर ली जाय । मनरेगा का पैसा पानी सचंय करने में अधिक किया जाय । यह योजना शहर व ग्रामीण क्षेत्रो में किया जा रहा है । पानी की महत्ता,पवित्रता को समझते हुए  पानी बचाने का कार्य करना होगा । पानी खर्च व बचाव का समाधान भी ढुढना है । वर्षा का जल बहकर नुकसान हो जाता है इसे संचय कर खेतो की सिचाई व स्वच्छ जल पीने हेतु कार्य किया जाय ।उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि जल सरक्षत एंव सर्वधन सामुदायिक प्रयास से वैश्विक चुनौती के रूप में लेना होगा । पानी जीवन का अहम हिस्सा है इसके बिना हमें कुछ भी मिलना सम्भव नही है ।जिलाधिकारी डा0उज्ज्वल कुमार ने कहा कि यहा पानी की बहुतायता है परन्तु पीने की स्वच्छ पानी नही है इसके लिए जल शक्ति मिशन के तहत पाईप लाइन पेय जल का कार्य किया जा रहा है इसमें पानी टोटी को आगे आकर लेने  की आवश्यता जिससे स्वच्छ जल स्वस्थ जीवन को साकार किया जा सके । उन्होने यह भी बताया कि हर गाव में ओभर टैक का कार्य होगा इसके लिए जे0एम0सी0 प्रोजेक्ट   कार्य कर रही है । उन्होने कहा कि बरसात के दिनो में पानी को उबाल कर ही ले । किसी प्रकार की कोई दिक्कत है तो नजदीकी सरकारी हास्पीटल में जाये । उक्त अवसर पर अधिशासी जल निगम ए के अग्रवास,डीपीआर ओ,सहित भारी सख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे ।Attachments area

52940cookie-check