July 15, 2024

माता पिता की सेवा से मिलता है अनमोल सुख

Spread the love

पिपरा मदन गोपाल में चल रहे यज्ञ का चौथा दिन

अमिट रेखा
जितेन्द्र कुमार सिंह

देसही देवरिया। पिपरा मदन गोपाल गांव में चल रहे लक्ष्मी नारायण यज्ञ के तीसरे दिन रासलीला मंडली के कलाकारों ने रासलीला का मंचन किया।
देसही देवरिया के पिपरा मदन गोपाल गांव के महुआबारी टोले पर चल रहे लक्ष्मी नारायण महायज्ञ के चौथे दिन रासलीला मंडली के कलाकारों ने श्रीकृष्ण लीला का मंचन किया। दिखाया कि नंद बाबा के घर श्रीकृष्ण के होने की बात की भविष्यवाणी होते ही कंस उन्हें मारने की योजना बनाने लगा। उसने अपनी बहन पूतना को इस कार्य के लिए गोकुल भेजा। वहां उसने बड़ी चतुराई से कृष्ण को विष का स्तनपान कराया। मगर, श्रीकृष्ण के स्तनपान करते ही पूतना मृत्यु को प्राप्त हो गई। बाल लीलाओं को देखकर माता यशोदा सहित गोपियां समझ नहीं पा रही थी कि यह अद्भुत चमत्कार कैसे हो गया।
वहीं मानस कोकिला श्रीमती विजय लक्ष्मी ने श्रोताओं को कथा का रसपान कराया। कहाकि भक्त और भगवान के बीच अटूट संबंध होते हैं। यह इतने मजबूत होते हैं कि भक्तों की लगातार गलतियों से भी नहीं टूटते। ईश्वर उन्हें मौका देते हैं। सच्चे मन से प्रायश्चित मात्र से ही सभी पाप धुल जाते हैं। कहाकि माता पिता की सेवा और संस्कार से जीवन में हर अनमोल सुखों की प्राप्ति हो जाती है।
इस दौरान डॉ ओमप्रकाश सिंह, संजय मिश्र, विनोद सिंह, दूधनाथ, रमाशंकर यादव, श्याम गुप्ता, अनिल यादव, रामनिवास सिंह आदि मौजूद रहे।

46040cookie-checkमाता पिता की सेवा से मिलता है अनमोल सुख