July 16, 2024

गंडक नदी ने महदेवा गांव में तेज की कटान, ग्रामीण पलायन करने को है मजबुर

Spread the love

अमिट रेखा/अजय तिवारी नेबुआ नौरंगिया

महदेवा गांव में गंडक की कटान तेज
महदेवा गांव के करीब हो रही है कटान, ग्रामीण परेशान
विधायक और एसडीएम ने की कटान स्थल की निगरानी

खड्डा। क्षेत्र के महदेवा गांव से सटे हो रही कटान को रोकने के लिए चल रहे बचाव कार्य की निगरानी के लिए खड्डा विधायक और एसडीएम कटान स्थल पर डटे रहे। हालांकि नदी गांव के करीब आ गई है, इसलिए घरों के नदी में समाने के डर से परेशान ग्रामीण पलायन करने को विवश हैं।
गंडक नदी कटान करती हुई खड्डा क्षेत्र के महदेवा गांव करीब पहुंच गई है। कटान कुछ तेज हुई, तो लोग परेशान होने लगे। यह देखकर विधायक कटान वाले स्थान पर रुककर एसडीएम के साथ पूरी रात बचाव कार्य की निगरानी करते रहे। और सुबह से बचाव कार्य में और तेजी आई है। बाढ़ खंड के एसडीओ मनोरंजन कुमार और जेई रवि कुमार भी मौके पर मौजूद रहे। मजदूर बांस के कैरेट और बोरी भरकर नदी की धारा की तीव्रता को कम करने का प्रयास करते रहे। इसमें सबसे बड़ी समस्या यह आ रही है की कोई स्थायी बेस नहीं है। केवल बलुई मिट्टी होने के कारण बचाव के उपाय ज्यादा कारगर साबित नहीं हो पा रहे हैं। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि नथुनी कुशवाहा, जितेंद्र निषाद, बाढू प्रसाद, गौरी बीन, भोला बीन, श्यामबदन गुप्ता, लालजी मल्लाह, सुरेंद्र बीन आदि के लगभग 70 घर नदी के निशाने पर सीधे आ गए हैं। इन लोगों ने अपना कीमती सामान घर से निकालकर गांव के दूसरे हिस्से में पहुंचाना शुरू कर दिया है। गांववालों की चिंता यह है कि खेती पहले ही नदी में समा चुकी है। अब घर भी खतरे में हैं। अभी बरसात का मौसम दो माह और है। ऐसे में गांव को बचाना काफी मुश्किल लग रहा है। इस कटान स्थल पर सीओ शिवाजी सिंह, तहसीलदार कृष्णगोपाल त्रिपाठी, नायब तहसीलदार रवि यादव, एसओ रामकृष्ण यादव, सालिकपुर चौकी इंचार्ज राजेश आदि भी निगरानी रख रहे हैं।

78740cookie-checkगंडक नदी ने महदेवा गांव में तेज की कटान, ग्रामीण पलायन करने को है मजबुर